पढ़ना न भूलें पिछले सप्ताह की वो अहम घटनाएं जिनसे सीधा है आपका वास्ता

People

रक्षा सौदों से लेकर नया गठबंधन करने की राजनीतिक सुर्खियों के साथ ही नए साल में पीएम नरेंद्र मोदी ने सामान्य वर्ग को आरक्षण देने का मास्टर स्ट्रोक एन चुनाव के पहले खेलकर नया राजनीतिक दांव चला है।

ऊंट की करवट पर नज़र

SOURCE- TWITTER

ऐसे में आरक्षण बिल का लोक सभा के बाद राज्य सभा में पास होना। इसके बाद संविधान में इस बारे में बदलाव की राष्ट्रपति कोविंद नारायण की मंजूरी। इससे फिलहाल तो साबित हो रहा है कि नमो का यह मंत्र भी चुनाव में सामान्य वर्ग के आरक्षित ऊंट (वोटर) के बैठने की करवट को प्रभावित कर सकता है।

यूपी में बुआ-भतीजे का मायावी शो

इधर पीएम मोदी ने आरक्षण का पांसा फैंका तो उधर आरक्षित वर्ग का पक्षधर बताने वाली बहुजन समाज पार्टी और समाज वाद का दावा करने वाली पार्टी फिर एक दूसरे के साथ हो गए। हालांकि दोनों पार्टियों का इतिहास गेस्ट हाउस घटना और यारी-गद्दारी से रंगा हुआ है।
अब ऐसे में देखना खास होगा कि पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और बसपा प्रमुख मायावती का मायाजाल क्या रंग लाता है। वो भी तब जब इस सियासी गठबंधन ने कांग्रेस को लाभ देने के लिए अमेठी और रायबरेली की सीट पर अपने प्रत्याशियों को न उतारने का फिलहाल तो ऐलान जैसा भी किया है।

छुट्टी, बहाली और इस्तीफा

SOURCE-NEWS CENTRAL

सीबीआई निदेशक आलोक वर्मा ने आखिरकार अपने पद से इस्तीफा दे दिया। भ्रष्टाचार के आरोपों का सामना कर रहे श्री वर्मा को छुट्टी पर भेजा गया, जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने उनकी फिर से सीबीआई में वापसी करवाई।

आखिरकार निराश होकर बाद में वर्मा ने इस्तीफा दे दिया और प्रक्रिया को चिंताजनक भी करार दिया। आपको जानकर अचरज होगा कि बीते 55 सालों के इतिहास में पहली बार किसी निदेशक की ऐसी बिदाई हुई है।

पहली बार कंगारुओं का शिकार

भारतीय क्रिकेट टीम ने 71 साल में पहली बार ऑस्ट्रेलिया को उसी की जमीन पर टेस्ट सीरीज़ में धूल चटाकर शान से तिरंगा लहराया। एशिया की कोई और टीम अब तक इस कारनामे को अंजाम नहीं दे पाई है। इस जीत के बाद भारतीय टीम को इतिहास की सर्वश्रेष्ठ टीम बताया जा रहा है।

SOURCE – FIRST POST

इस सफलता के बाद जहां भारत की अब तक की सर्वश्रेष्ठ कप्तानी और टीम को लेकर जंग छिड़ गई वहीं हार्दिक पांड्या की महिलाओं के बारे में की गई टिप्पणी से भारतीय फैंस शर्मसार भी हुए। ऐसे में यह तय करना कि कोहली की टीम अब तक की सबसे बढ़िया टीम है थोड़ा जल्दबाजी होगी क्योंकि पूर्व भारतीय क्रिकेटर्स ने कभी भी इस तरह कॉफी पीने के दौरान गरिमा नहीं लांघी।

राफेल का भूत

राजग और विपक्ष के बीच रक्षा सौदा घोटालों को लेकर तू-तू, मैं-मैं का राग फिर जोर पकड़ रहा है। अगस्ता वेस्टलैंड मामले में मुख्य दलाल क्रिश्चियन मिशेल के बयान ने इस मामले में आग में घी का काम किया है।

दरअसल मिशेल ने प्रवर्तन निदेशालय पर कई डीलिंग्स में दलाली लेने-देने जैसे गंभीर आरोप लगाए हैं। इधर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमन जहां कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से माफी मांगने की मांग कर रहीं हैं वहीं राहुल गांधी हैं कि, एचएएल से जुड़े दस्तावेजों को पेश करने या फिर रक्षा मंत्री से इस्तीफा देने की ज़िद पर अड़े हुए हैं। अगले सप्ताह की प्रमुख खबरों के साथ अगले सप्ताह फिर हाजिर होंगे।

Comments

comments

Leave a Reply