खतरनाक देश

महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देश भारत, सीरिया-अफगानिस्तान से भी खराब हैं हालात: सर्वे

Crime, WakeUp

महिला को कभी देवी तो कभी सृष्टि जननी बताने वाले भारत देश को महिलाओं के लिए दुनिया का सबसे खतरनाक देश माना गया है. शारीरिक हिंसा, रेप और अनुचित धंधों में धकेल दिए जाने के आधार पर थॉमसन रॉयटर्स फाउंडेशन के इस सर्वे में भारत को सबसे खतरनाक देश माना गया है. हर रोज अखबारों, न्यूज चैनलों में महिलाओं के प्रति अपराध की खबरों का ये बड़ा नतीजा सामने आ रहा है.

फोटो-जी न्यूज

अफगानिस्तान दूसरे, सीरिया तीसरे नंबर पर

इस सर्वे के मुताबिक, महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देश के कैटेगरी में अफगानिस्तान दूसरे नंबर पर है वहीं सीरिया तीसरे नंबर पर है. बात-बात पर हम पाकिस्तान से तुलना करते हैं वो भी हमसे महिलाओं के मामले में कहीं आगे हैं. इस सर्वे को महिला अधिकार पर काम करने वाले 550 विशेषज्ञों को शामिल करके तैयार किया गया है. महिलाओं के लिए खतरनाक देशों में सिर्फ एक वेस्टर्न कंट्री अमेरिका ही शामिल है.

सर्वे में शामिल यूनाइटेड नेशंस के 193 मेंबरों का कहना है कि महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक 10 देशों में हालात बेहद संगीन हैं. सबसे ज्यादा हालात शारीरिक हिंसा, रेप, उत्पीड़न, मानव तस्करी और स्वास्थ्य को लेकर हैं.

8 साल में तेजी से गिरी हैं रैंकिंग

ये सर्वे साल 2011 में भी कराया गया था. उस दौरान अफगानिस्तान, कॉन्गो, पाकिस्तान, भारत और सोमालिया महिलाओं के लिए सबसे खतरनाक देश माने गए थे. अब भारत पहले स्थान पर आ गया है. साफ दिखता है कि हम महिलाओं पर हो रहे अपराधों के लिए कोरे नियम कानून तो जरूर बना रहे हैं लेकिन उसे लागू करवा पाने में नाकाम हैं.

48 सांसद-विधायकों पर महिलाओं के प्रति अपराध के केस

एक और बड़ी वजह हैं. संसद, विधानसभाओं में बैठे सांसद और विधायकों में से कुल 48 ऐसे हैं जिनपर खुद महिलाओं के प्रति अपराध का मामला है और यही लोग कानून बनाते हैं. सरकारें चलाते हैं. इनसे क्या उम्मीद रखी जाए. क्या है महिलाओं के लिए देश को बेहतर बनाने का काम करेंगे?

Comments

comments

Leave a Reply