Mamata Vs CBI: पश्चिम बंगाल में बड़ा बवाल, मोदी सरकार पर CBI के गलत इस्तेमाल के आरोप

Politics

पश्चिम बंगाल में संवैधानिक संकट वाली स्थिति बनती दिख रही है. दरअसल, कोलकाता के पुलिस कमिश्नर राजीव कुमार से पूछताछ करने उनके आवास पर आई, सीबीआई जो कि एक केंद्रीय जांच एजेंसी है, की टीम को राज्य की पुलिस ने हिरासत में ले लिया है. खबरों के मुताबिक, पुलिस और सीबीआई की टीम के बीच मुठभेड़ भी हुआ. राजीव कुमार से सीबीआई सारदा चिटफंड घोटाले के मामले में पूछताछ करने आई थी. ऐसी भी खबरें आईं थी कि उन्हें गिरफ्तार भी किया जा सकता था. लेकिन इससे पहले ही बवाल बढ़ गया और राज्य की सीएम ममता बनर्जी राजीव कुमार के आवास पर पहुंच गई.

फोटो-सोशल मीडिया

ममता बनर्जी का धरना

पूरे मामले को बीजेपी सरकार की साजिश और कथित तौर पर तख्तापलट की कोशिश बताते हुए मुख्यमंत्री ममता बनर्जी धरने पर भी बैठ गई. उनकी बातों से ऐसे संकेत मिल रहे थे कि वो कहना चाहती हैं कि विपक्षी एकता को मजबूत होता देखकर मोदी सरकार बौखलाई हुई है और कार्रवाई कर रही है. मुद्दे को संसद में भी उठाने की बात तृणमूल कांग्रेस की तरफ से की गई है. ये भी कहा जा रहा है कि राजीव कुमार हाल ही में हुई चुनाव आयोग की मीटिंग में भी नहीं दिखे थे. अब मामले को बढ़ता देखकर कोलकाता में सीबीआई दफ्तर के बाहर अर्धसैनिक बल के जवान तैनात कर दिए गए हैं.

फोटो- ANI

विपक्षी हुए एक

ममता बनर्जी के समर्थन में कई पार्टी के नेता खड़े होते दिख रहे हैं, केजरीवाल, अखिलेश यादव, एचडी देवगौड़ा ने ट्वीट कर अपना समर्थन ममता बनर्जी को दिया.

फोटो- ANI

यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने लिखा, बीजेपी सरकार की उत्पीड़नकारी नीतियों और CBI के खुलेआम राजनीतिक दुरुपयोग के कारण जिस तरह देश, संविधान और जनता की आज़ादी ख़तरे में है, उसके ख़िलाफ़ ममता बनर्जी जी के धरने का हम पूर्ण समर्थन करते हैं

Comments

comments

Leave a Reply